उत्तराखंड में लगी आग के चलते 3000 एकड़ से अधिक वन क्षेत्र जलकर राख हो चुका है। इस आग में अब तक उत्तराखंड के 13 जिलों के जंगल चपेट में आ चुके हैं। जिसका असर मुनस्यारी ,धारचूला,मदकोट,बागेश्वर ,नाचनी और अन्य जगह देखा जा रहा है ,चारों तरफ धुंध ही धुंध दिखाई दे रहा है। जिससे यहाँ आये शैलानियों को पंचचूली और अन्य प्राकृतिक नजारे नहीं दिखाई दे रहा है।  धुंध ने पूरे हिमालय और पूरे मुनस्यारी को ढक रखा है,लगता है इस बार इंद्रदेव नाराज़ है शायद। वैसे हफ्ते मैं एक दो बार बारिश हो जाती थी,लेकिन आज कल बारिश एक बूद भी नहीं पड़ी रही  है ,अगर बारिश आ जाती है तो फिर से हिमालय व सारा मुनस्यारी का वातावरण साफ़ हो जायगा।  
Next PostNewer Posts Previous PostOlder Posts Home