मानो तो भगवान न मानो तो पत्थर

मानो तो भगवान न मानो तो पत्थर


मानो तो भगवान ,न मानो तो पत्थर हूँ मैं ,
तुम्हारी ही आस्था से बना हूँ मैं ,तुम्हारी ही ताक़त से बना हूँ मैं ,
काले बादलो को चीर कर एक सुनहरी किरण
तुम्हारी ज़िन्दगी मै लाने के लिये बना हुवा हूँ मैं

नहीं चाहिए किसी भी प्रकार का लोभ मुझे ,
नहीं चाहिये किसी भी प्रकार के छ्पन भोग ,
बस एक पल मुझे भी याद कर ले ,
मेरी भक्ती मै कुछ पल मेरे नाम कर ले ,

तू जानता नहीं कितना चाहते है तुझे,
लेकिन तुम लोगो ने आपस मै न जाने कितने धर्म
बना लिए ,न जाने कितने मज़हब बना लिये ,
आपस मै ही लड़ते हो न जाने ऐसा क्यू करते हो ,

मैंने दिया है तुमको एक सुन्दर जीवन ,इस जीवन मै कुछ अच्छा करो ,
बे सहारो को सहारा दो ,भूखे को खाना दो , यू अपना जीवन दूसरो के नाम करो ,

Next PostNewer Post Previous PostOlder Post Home